Home हिंदी शहादत | पाकिस्तानी गोलीबारी में शहीद जवानों को दी गई श्रद्धांजलि

शहादत | पाकिस्तानी गोलीबारी में शहीद जवानों को दी गई श्रद्धांजलि

1462
0

उत्तरी कश्मीर में बीते 13 नवंबर को सीमापार से हुई गोलीबारी में शहीद चारों जवानों को रविवार सुबह सेना ने श्रद्धांजलि दी. मालूम हो कि शुक्रवार को उत्तरी कश्मीर के कई इलाकों में पाकिस्तान ने संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए गोलीबारी की थी. इन चार शहीद जवानों में नागपुर जिले के काटोल का भी एक जवान शामिल है.

इसमें हवलदार हरधन चंद्र रॉय, नायक सताई भूषण रमेशराव, गनर सुबोध घोष और सिपॉय जेआर रामचंद्र गोलीबारी में बुरी तरह घायल हो गए थे, जिसके बाद उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया. लेकिन गंभीर चोटों के कारण चारों शहीद हो गए.

शहीद हवलदार हरधन चंद्र रॉय (38) असम के धुबरी जिले के फुटकीबारी तहसील के रहने वाले थे. उन्होंने 2001 में सेना में ज्वाइनिंग की थी. परिवार में उनकी पत्नी और एक बेटा हैं.

शहीद नायक भूषण रमेशराव सतई, काटोल

शहीद नायक भूषण रमेशराव सतई महाराष्ट्र के नागपुर जिले के काटोल गांव के रहने वाले थे. 28 वर्षीय भूषण रमेशराव सतई ने साल 2011 में आर्मी ज्वाइन की थी. वो अविवाहित थे और परिवार में उनके माता-पिता हैं.

शहीद गनर सुबोध घोष साल 2017 में सेना में भर्ती हुए थे। महज 22 वर्ष के सुबोध पश्चिम बंगाल के नडिया जिले के तेहट्टा तहसील के रहने वाले थे. उनके परिवार में पत्नी और माता-पिता हैं.

शहीद जेआर रामचंद्र महाराष्ट्र के कोल्हापुर जिले के रहने वाले थे. उनकी उम्र केवल 20 साल थी और उन्होंने पिछले साल ही सेना में ज्वाइनिंग की थी. परिवार में उनके माता-पिता हैं. सेना द्वारा शहीद वीरों को श्रद्धांजलि देने के बाद पार्थिव शरीरों को अंतिम संस्कार के लिए उनके पैतृक गांव भेज दिया गया है.

सोमवार को किया जाएगा अंतिम संस्कार

नायक भुषण रमेश सतई का पार्थिव सोमवार की सुबह 8 बजे उनके काटोल स्थित आवास पर लाया जाएगा. सुबह 10 बजे शहिद भुषण की अंतिम यात्रा निकाली जाएगी. श्रीकृष्ण नगर फैलपुरा से ये अंतिम यात्रा निकलेंगी. नगरभव, जैन मंदिर चौक, स्टेट बैंक चौक – रुईया हायस्कूल चौक – गर्ल्स होस्टेल – वेटरनरी हॉस्पिटल – गलपुरा – दोडकीपुरा – आंबेडकर चौक – हुतात्मा स्मारक – पुलिस स्टेशन-अंबालाल पटेल बिल्डींग – सरस्वती महाद्वार चौक – बस स्टैंड – रेस्टहाऊस – धवड पेट्रोल पंप – यादव पेट्रोल पंप होकर यात्रा दहन घाट पर पहुंचेंगी.


रीडर्स आप आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम को ट्वीटर, इंस्टाग्राम और फेसबुक पर फॉलो कर रहे हैं ना? …. अबतक ज्वाइन नहीं किया है तो अभी क्लीक कीजिये (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020) और पाते रहिये हमारे अपडेट्स.
Previous articleक्रिश्चन धर्म गुरुओं ने दी नितिन गडकरी को दीपोत्सव की शुभकामनाएं
Next articleGadchiroli | आदिवासियों की जिंदगी में दीप जला रहीं हैं पुलिस
वाचकांनो आपन “आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम” ला ट्वीटर, इंस्टाग्राम आणि फेसबुक पर फॉलो करत आहात ना? अजूनपर्यंत ज्वाइन केले नसेल तर आमच्या अपडेट्स साठी आत्ताच क्लिक करा (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (यू ट्यूब-@aatmnirbhar khabar )(फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020).

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here