Home हिंदी निधन : नहीं रहे पूर्व राष्ट्रपति भारत रत्न प्रणब मुखर्जी

निधन : नहीं रहे पूर्व राष्ट्रपति भारत रत्न प्रणब मुखर्जी

भारतरत्न पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का सोमवार को निधन हो गया. प्रणब मुखर्जी का 84 साल की उम्र में निधन हुआ. उल्लेखनीय है कि 21 दिन पहले उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. उनकी ब्रेन सर्जरी भी की गयी थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा है कि प्रणब मुखर्जी को राजनीति से इतर समाज के हर वर्ग में खूब चाहा गया.

पहले पत्रकार, क्लर्क और टीचर भी रह चुके है
प्रणब मुखर्जी को भारतीय राजनीति में एक विद्वान के रूप में सम्मान हासिल रहा. उल्लेखनीय है कि उनके पास इतिहास, राजनीतिक शास्त्र और कानून की डिग्रियां थीं. क्लर्क, पत्रकार और टीचर के तौर पर काम करने का उनका अनुभव था. वर्ष 1969 में पिता के नक्श-ए-कदम पर चलते हुए राजनीति में आ गए. 2008 में उन्हें पद्म विभूषण और 2019 में भारत रत्न जैसे सर्वोच्च सम्मान से सम्मानित किया गया.

उनके बेटे अभिजीत ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी. अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट किया, ‘भारी दिल से आपको सूचित कर रहा हूं कि मेरे पिता श्री प्रणब मुखर्जी का आर.आर. अस्पताल के डॉक्टरों के सर्वोत्तम प्रयासों और पूरे देश के लोगों की प्रार्थना के बावजूद निधन हो गया है. मैं आप सभी को हाथ जोड़कर धन्यवाद देता हूं.’ प्रणब मुखर्जी के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी समेत देश की प्रमुख हस्तियों ने शोक व्यक्त किया है.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट किया, ‘पूर्व राष्ट्रपति, श्री प्रणब मुखर्जी के स्वर्गवास के बारे में सुनकर हृदय को आघात पहुंचा उनका देहावसान एक युग की समाप्ति है। श्री प्रणब मुखर्जी के परिवार, मित्र-जनों और सभी देशवासियों के प्रति मैं गहन शोक-संवेदना व्यक्त करता हूँ।’ उपराष्ट्रपति व्यंकय्या नायडू ने भी उनके निधन की जानकारी ट्वीट कर दी है.

राष्टीय स्वयसेवक संघ आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने एक वीडियो सन्देश के जरिये भूत पूर्व राष्ट्रपति के निधन पर दुःख जताया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here