Home Health मंदसौर में मुस्लिम समाज का फैसला | ‘मास्क नहीं तो नमाज नहीं’,...

मंदसौर में मुस्लिम समाज का फैसला | ‘मास्क नहीं तो नमाज नहीं’, मस्जिद में भी घुसने पर होगी रोक

मंदसौर ब्यूरो : मंदसौर के शामगढ़ में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए मुस्लिम समाज ने अनूठी पहल की है. शुक्रवार को शामगढ़ में जुम्मे की नमाज पढ़ने आए लोग जब मस्जिद के गेट पर पहुंचे तो उन्हें गेट पर ही रोक दिया गया. उनसे कहा गया- ‘मास्क नहीं तो नमाज नहीं.’

मंदसौर के शामगढ़ कस्बे में अंजुमन कमेटी के सदस्यों और पदाधिकारियों ने मस्जिद के बाहर ही लोगों को मास्क भी बांटे और पहनाए भी. मंदसौर में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए अब मस्जिदों में भी खास एहतियात बरती जा रही है. बिना मास्क कोई भी नमाज पढ़ने न आए इसके लिए अंजुमन कमेटी ने पहले ही लोगों को मास्क पहनाए और बाद में नमाज पढ़ने की इजाजत दी.

नमाजियों को दी गई हिदायत

गौरतलब है कि शुक्रवार को मस्जिद में नमाजियों की संख्या ज्यादा थी. अंजुमन सदर के शेर आलम वारसी ने बताया कि नमाजियों की संख्या देखते हुए समाज ने बिना मास्क आए लोगों को गेट पर ही मास्क पहनाए और बाद में नमाज पढ़ने की इजाजत दी. पदाधिकारियों ने नमाजियों को हिदायत भी दी है कि अगली बार अगर कोई भी बिना मास्क के नमाज पढ़ने आएगा तो उसको मस्जिद में नहीं घुसने दिया जाएगा. मास्क नहीं तो नमाज नहीं. वहीं, मंदसौर के नेता मोहम्मद हनीफ ने कहा कि अगर हम ही जागरूक हो जाएंगे तो फिर हम आसानी से कोरोना को हरा पाएंगे. सावधानी जरूरी है और मास्क पहनना जरूरी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here