Home हिंदी Diwali | डिजिटल दीपक से जगमगाएगी अयोध्या, लेजर शो के जरिये आतिशबाजी

Diwali | डिजिटल दीपक से जगमगाएगी अयोध्या, लेजर शो के जरिये आतिशबाजी

अयोध्या ब्यूरो : दीपावली के मौके पर इस बार अयोध्या में बेहद खास ढंग से दीपोत्सव आयोजित होगा. ये चौथा दीपोत्सव है लेकिन राम मंदिर निर्माण की शुरुआत होने के बाद यह प्रथम दीपोत्सव है. कोविड-19 के प्रोटोकॉल के तहत लोगों को बिना पास के दीपोत्सव स्थल पर जाने की अनुमति नहीं होगी लेकिन भव्य दीपोत्सव मनाने के लिए अफसर जुटे हुए हैं और इस दीपावली को यादगार बनाने के प्रयास में अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी, प्रमुख सचिव, सूचना नवनीत सहगल, एडीजे कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार अयोध्या पहुंचे.

आलाअधिकारियों ने अयोध्या में चल रही थी दीपोत्सव की तैयारी का जायजा लिया. इस बार भगवान राम के परिसर राम जन्मभूमि में भी दीपावली मनाई जाएगी, जिसमें लोग वर्चुअल रूप से शामिल हो सकेंगे. इसके लिए एक वेबसाइट बनाई जाएगी. वेबसाइट पर क्लिक करते ही राम जन्मभूमि में दीपक जला सकेंगे. जिसमें एक आभार पत्र भी मुख्यमंत्री द्वारा भेजा जाएगा. इस बार दीपोत्सव खास होगा. सारे पारंपरिक कार्यक्रमों का आयोजन होगा और इस बार लेजर शो के जरिए आतिशबाजी भी देखने को मिलेगी. अयोध्या के प्रमुख मंदिरों पर भी दीपक जलाया जाएगा.

लेजर शो के जरिये आतिशबाजी

अयोध्या पहुंचे प्रमुख सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने पूरी टीम को दीपोत्सव के निरीक्षण के लिए भेजा है. जिस प्रकार हर वर्ष दीपोत्सव होता है. इस वर्ष उससे भी भव्य दीपोत्सव का आयोजन होगा. इस वर्ष भी कुछ चीजें खास होंगी. इस बार आतिशबाजी का जो शो होगा वह लेजर शो के द्वारा होगा और बहुत ही खूबसूरत होगा. हमारी लोगों से यह अपील है कि इस वर्ष सुरक्षा की सख्ती रहेगी, साथ ही अवनीश अवस्थी ने लोगों से अपील भी की है कि लोग टीवी चैनलों के माध्यम से और सोशल मीडिया के माध्यम से ही दीपोत्सव को देखें. इस वक्त राम जन्म भूमि मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हुआ है. इस वजह से सुरक्षा घेरा सख्त रहेगा जो पारंपरिक कार्यक्रम पिछले वर्षों में होते रहे हैं वह होंगे. इस बार भी राम सीता पुष्पक विमान से राम कथा पार्क पहुंचेंगे जहां पर मुख्यमंत्री उनका राज्याभिषेक करेंगे. मुख्यमंत्री के साथ उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल भी कार्यक्रम में शामिल होंगी.

डिजिटल दीपक जलाएं

प्रमुख सचिव सूचना नवनीत सहगल ने बताया कि राम जन्मभूमि परिसर में डिजिटल तौर पर कोई भी व्यक्ति दीपक जला सकता है, ये व्यवस्था पहली बार हुई है. इस बार आतिशबाजी भी ओरिजिनल तौर पर नहीं की जाएगी. लेजर के द्वारा आतिशबाजी का शो किया जाएगा यह दोनों चीजें नई जुड़ रही हैं. एक तो डिजिटल दीपावली और आतिशबाजी का लेजर शो दीपोत्सव इस बार बेहद ख़ास होगा. 5 लाख 51 हजार दीपक राम की पैड़ी पर जलाए जाएंगे तो अयोध्या के प्रमुख मंदिरों पर भी दीपक जगमग करेंगे और डिजिटल तौर पर भी लोग दीपक जला सकेंगे.


रीडर्स आप आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम को ट्वीटर, इंस्टाग्राम और फेसबुक पर फॉलो कर रहे हैं ना? …. अबतक ज्वाइन नहीं किया है तो अभी क्लीक कीजिये (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020और पाते रहिये हमारे अपडेट्स.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here