Home हिंदी जनता कर्फ्यू : नागपुर शहर में शनिवार को दिखा ऐसा असर…

जनता कर्फ्यू : नागपुर शहर में शनिवार को दिखा ऐसा असर…

नागपुर ब्यूरो : नागपुर शहर और जिले में तेजी से कोविड का संक्रमण फैल रहा है. इस बढ़ते संक्रमण और बढ़ती मौतों के आंकडों पर काबू पाने के लिए नागपुर शहर में शनिवार और रविवार को जनता कर्फ्यू लगाने का ऐलान महापौर संदीप जोशी ने किया था. बुधवार को महापौर संदीप जोशी ने बुलाई बैठक के बाद इसकी अधिकृत घोषणा कर दी थी. शनिवार को नागपुर में जनता कर्फ्यू का पहला दिन था. लेकिन कहीं पर भी इसका ख़ास असर नजर नहीं आया.


  • ये वीडियो सीताबर्डी मार्केट, नागपुर का है

ये भी जरूर पढ़ें – रंजन कुमार शर्मा को फिर मिली CID की कमान, DIG बनाए गए


प्रशासन ने किया किनारा
महापौर जोशी ने भले ही नागपुर में जनता कर्फ्यू की घोषणा कर दी लेकिन मनपा आयुक्त राधाकृष्णन बी ने साफ़ कर दिया है कि इस जनता कर्फ्यू का आवाहन स्वेच्छा के बंद के लिए है. मनपा प्रशासन ने इसे लेकर कोई अधिकृत आदेश नहीं जारी किया है. यानी नागपुर में होने वाला जनता कर्फ्यू में प्रशासन का कोई रोल नहीं है. अपने ट्वीट में मनपा आयुक्त ने ये भी कहा कि समय की मांग है कि जरुरी न हो तो घरों से बाहर न निकलें। जब भी काम की वजह से बाहर जाना पड़े तो मास्क पहनें, जरुरी सावधानिया बरतें.

ये भी जरूर पढ़ें – जज्बे को सलाम : मजदूरी कर पूरी की पढ़ाई, अब बने आईएएस

जनता कर्फ्यू को लेकर राजनीति दुर्भाग्यपूर्ण : जोशी

इसी बिच शनिवार को महापौर जोशी ने कहा कि जनता कर्फ्यू को लेकर की जा रही राजनीति दुर्भाग्यपूर्ण है. जोशी का कहना है की शहर में 90 प्रतिशत लोगों ने अपना समर्थन जनता कर्फ्यू को दिया है. पुलिस आयुक्त ने पत्र लिखकर जनता कर्फ्यू में सहयोग नहीं करने वालो पर कार्रवाई नहीं होगी कहना और मनपा आयुक्त ने ट्वीट कर कहना कि प्रशासन ने अधिकृत आदेश जारी नहीं किया है, ये दिखाता है कि उनके कंधे पर बंदूक रखकर कौन ये सब कर रहा है. हालांकि महापौर जोशी कहते है कि जनप्रतिनिधियों ने मिलकर ये फैसला लिया है इसलिए जनता कर्फ्यू में अगर किसी ने सहयोग नहीं किया या दूकान खुली राखी तो मनपा के एनडीएस दल के माध्यम से कार्रवाई की जाएगी. जबकि मनपा आयुक्त करवाई करने को लेकर मन कर चुके है.


हे देखील वाचा – नागपुरातील आयटी कंपनीत अमेरिकी कंपनीची 750 कोटींची गुंतवणूक


व्यापारी दो फाड़
नागपुर के जनता कर्फ्यू को लेकर जमकर राजनीति हो रही है. इसे लेकर अब शहर के व्यापारी भी दो फाड़ नजर आने लगे है. कुछ व्यापारी संगठनों ने इस कर्फ्यू को समर्थन जारी कर दिया है. वहीं कुछ संगठनों ने इसके खिलाफ में मोर्चा खोलते हुए ये मेसेज वायरल कर दिया है कि अगर कोई जबरन दुकानें बंद करने आता है तो उनकी तस्वीर और वीडियो निकालकर पुलिस को दे. ऐसे लोगों पर कार्रवाई की जाएगी.


  • ये वीडियो बड़कस चौक, नागपुर का है

पुलिस कहती है कार्रवाई नहीं करेंगे
नागपुर पुलिस ने इसी बिच एक प्रेस नोट जारी कर कहा है कि जनता कर्फ्यू के लिए मनपा प्रशासन ने अधिकृत आदेश जारी नहीं करने के चलते जनता कर्फ्यू का पालन नहीं करने वालो के खिलाफ पुलिस किसी पर भी कार्रवाई नहीं करेगी.


  • रीडर्स आप आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम को ट्वीटर, इंस्टाग्राम और फेसबुक पर फॉलो कर रहे हैं ना? …. अबतक ज्वाइन नहीं किया है तो अभी क्लीक कीजिये (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020) और पाते रहिये हमारे अपडेट्स.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here