Home हिंदी नागपुर जिले के बाढ़ प्रभावित किसानों की मदद करें सरकार

नागपुर जिले के बाढ़ प्रभावित किसानों की मदद करें सरकार

552
0

सांसद कृपाल तुमाने की संसद में मांग- कृषि मंत्री नुकसान का ले जायजा

नई दिल्ली / नागपुर : नागपुर जिले में अगस्त माह में भारी बारिश के कारण किसानों को नुकसान हुआ है. फसल पर कई बीमारियों के कारण किसान बेहद परेशान है. किसानों को मदद की जरूरत है. रामटेक के सांसद कृपाल तुमाने ने संसद में मांग की है कि नागपुर जिले में हुए नुकसान की समीक्षा की जाये और केंद्र सरकार किसानों की मदद करें.

संसद में दूसरी बार रामटेक निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले सांसद कृपाल तुमाने ने इससे पहले केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को पत्र लिखकर नागपुर जिले में हुए नुकसान की जानकारी दी थी. उसी समय, नागपुर जिले में फसलो को हुए नुकसान के लिए केंद्र सरकार का ध्यान खींचने के लिए लोकसभा में नियम 377 के तहत मुआवजे का मुद्दा उठाया गया था. सांसद तुमाने ने लोकसभा को नागपुर जिले में हुए नुकसान की जानकारी दी.

तुमाने ने कहा कि नागपुर जिले में लगभग पाँच लाख हेक्टेयर में फसलें हैं, जिनमें से 1 लाख 22 हजार 222 हेक्टेयर में सोयाबीन, 90 हजार 337 हेक्टेयर में धान, 2 लाख 11 हजार 803 हेक्टेयर में कपास, खरीफ की फसलें और 15 हजार हेक्टेयर में मौसमी फसलें हैं. अगस्त में लगातार 15 दिनों तक भारी बारिश के कारण किसान खेती नहीं कर पाए. इससे सभी फसलों पर रोग लग गया. अनाज की फसल 50 फीसदी तक प्रभावित हुई है. इससे किसानों को बड़ा नुकसान हुआ है. सांसद तुमाने ने मांग की कि कृषि मंत्री रामटेक लोकसभा क्षेत्र में बारिश से हुए नुकसान की व्यक्तिगत रूप से समीक्षा करें और प्रभावित किसानों को केंद्र से वित्तीय सहायता के रूप में क्षतिपूर्ति करें. कृषि मंत्री ने स्थिति की समीक्षा की और प्रभावित किसानों की मदद करने का वादा किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here