Home हिंदी ‘हिंदी हूं मैं’ : हिंदी दिवस पर हुआ ऑनलाइन राष्ट्रीय कवि सम्मेलन

‘हिंदी हूं मैं’ : हिंदी दिवस पर हुआ ऑनलाइन राष्ट्रीय कवि सम्मेलन

666
0

नागपुर : आदर्श बहुउद्देशीय शिक्षण संस्था व नागपुर बाजार पत्रिका के अंतर्गत हिंदी दिवस के उपलक्ष्य मे हाल में ऑनलाइन राष्ट्रीय कवि सम्मेलन “मेरी हिंदी” का आयोजन किया गया था. कार्यक्रम का सफल संयोजन व संचालन मार्गदर्शिका, साहित्य सेवी पूनम तिवारी “हिंदुस्तानी “ने किया. कार्यक्रम की अध्यक्षता संपादिका ज्योति द्विवेदी ने की. मुख्य अतिथि के रूप में वरिष्ठ साहित्यकारा हेमलता मिश्र मानवी उपस्थित थीं.

कार्यक्रम के अंतर्गत “हमारी हिंदी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था जिसमे बड़ी संख्या मे कवि व कवियित्रीयों ने अपना योगदान दिया. “हिंदी गौरव” के प्रथम पुरस्कार विजेता रहे युवा कवि विशाल खर्चवाल, द्वितीय पुरस्कार की विजेता श्रीमती सुनीता केसरवानी, तृतीय पुरस्कार की विजेता तनवीर खान रही. मध्य प्रदेश से अंतरा शब्दशक्ति संस्था की अध्यक्षा प्रीति समकित सुराना, उत्तर प्रदेश से प्राध्यापक रमाकांत दुबे, कोलकाता से डॉ. सतीष दुबे, एम्स्टर्डम से मधुबाला श्रीवास्तव जी, संस्था की संयोजिका अनिता जयस्वाल व शिल्पा साहिर ने अपना सहयोग दिया.

पुष्पा पांडे, रंजन श्रीवास्तव,रूपा चांडक, लक्ष्मी राव, भारती हेमरजानी, दुर्गेश दिक्षित, सुषमा अग्रवाल, संतोष बुद्धिराजा, रेशम मदान, मीरा जोगलेकर, धारना अवस्थि, सरोज गर्ग, पूजा नबीरा, रूबी दास, मंजू कारेमोरे, पूनम सिंग, प्रिया सिन्हा, कविता कौशिक, ममता मिश्रा, रामकुमारी कर्नाहके कवियित्रियों ने हिंदी दिवस पर अपनी रचनाएं पेश की. तकनीकी संयोजक अनुपम राजेश तिवारी थे. आभार प्रदर्शन पूनम तिवारी हिंदुस्तानी ने किया.

‘भाव और‌ भाषा’ का विमोचन
मध्य प्रदेश पारसिवनी की संस्था अंतरा शब्दशक्ति द्वारा 14 सिंतबर सोमवार को सफल ऑनलाइन पुस्तक “भाव और‌ भाषा” का विमोचन किया गया. कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ. प्रीति समकित सुराना ने की. उन्होंने इस समय कहा कि “भाव व भाषा ” सांझा संकलन राजभाषा हिंदी को समर्पित है. नागपुर से कवियित्री पूनम राजेश तिवारी “हिंदुस्तानी” तथा कवियित्री रंजना श्रीवास्तव की रचनाएं भी सम्मिलित की गयी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here