Home आत्मनिर्भर आत्मनिर्भर । दो बहनों ने 300 रुपए में शुरू किया सैंडल का...

आत्मनिर्भर । दो बहनों ने 300 रुपए में शुरू किया सैंडल का ऑनलाइन बिजनेस

403
0
ये आत्मनिर्भरता की कहानी उत्तर प्रदेश के लखनऊ की रहने वाली दो बहनों कि है. जिन्होने चार साल पहले महज तीन सौ रुपए की लागत से ऑनलाइन सैंडल बेचने का काम शुरू किया था। आज उनका कारोबार भारत के साथ-साथ दुनिया के कई देशों में फैल चुका है। कई बड़ी सेलिब्रिटी उनकी डिजाइन की हुई सैंडल पहन रही हैं। हर महीने सौ से ज्यादा ऑर्डर उनके पास आ रहे हैं। इससे दोनों बहनों को हर साल तीन लाख रुपए की कमाई हो रही है।

27 साल की नाजिश बीकॉम की पढ़ाई कर चुकी हैं। कहती हैं, ‘हमारे घर की आर्थिक स्थिति बहुत अच्छी नहीं थी। पापा सुई-धागे की दुकान चलाते थे, लेकिन उन्होंने हमारी पढ़ाई पर पूरा फोकस किया। किसी तरह की कमी नहीं होने दी, भले ही इसके लिए उन्हें उधार ही क्यों न लेना पड़े।’ नाजिश पढ़ने में अच्छी थीं, वे आगे चार्टर्ड अकाउंटेंट (CA) या बैंक ऑफिसर बनना चाहती थीं, लेकिन 2016 में उनके भाई ने ऑनलाइन बिजनेस के बारे में बताया। भाई ने कहा कि आगे आने वाले वक्त में ऑनलाइन सेक्टर में काफी ग्रोथ मिलने वाली है, ज्यादातर मार्केट ऑनलाइन शिफ्ट हो रहे हैं।

शौक को बिजनेस में बदला

नाजिश कहती हैं कि हम लोग पहले से घर में चप्पलों और सैंडल्स पर कारीगरी करते थे और अपने हिसाब से डिजाइन करते थे। हमारे पड़ोसी भी हमारी कारीगरी की तारीफ करते थे। हमने सोचा कि क्यों न इसी कारीगरी को बिजनेस में बदला जाए। इसके बाद हमने कोल्हापुरी सैंडल्स पर क्रिएटिव डिजाइन बनाने का काम शुरू किया, क्योंकि हमारे यहां कोल्हापुरी सैंडल्स की अच्छी डिमांड थी। मैंने और मेरी छोटी बहन इंशा, जो अभी ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रही है, ने मिलकर काम करना शुरू किया।

पहला ऑर्डर मिला था चार महीने बाद

नाजिश ने मम्मी से 300 रुपए लिए और मार्केट से एक सैंडल खरीद लाई। सैंडल पर अपनी पसंद के मुताबिक डिजाइन क्रिएट किया। उसके फैब्रिक का लुक चेंज किया और फिर इसकी फोटो खींचकर इंस्टाग्राम पर अपलोड कर दिया। फोटो अपलोड करने के करीब चार महीने बाद नाजिश को पहला ऑर्डर मिला। इससे दोनों बहनों का मनोबल बढ़ा और इस आइडिया को बड़े लेवल पर ले जाने का प्लान किया। उन्होंने सोशल मीडिया पर ‘Talking Toe’ नाम से पेज बनाया और उस पर अपनी डिजाइन की हुई सैंडल्स की तस्वीरें पोस्ट करने लगे। जैसे-जैसे वक्त बीतता गया। उनका बिजनेस बढ़ता गया। अभी दुबई, अमेरिका, UK, इटली, सिंगापुर और मॉरीशस से उन्हें ऑर्डर मिल रहे हैं।

चार लोगों को दिया रोजगार

दोनों बहनें मिलकर अब तक 15 हजार से ज्यादा डिजाइन बना चुकी हैं। नाजिश बताती हैं कि हम लोग अपनी पसंद से डिजाइन तो बनाते ही हैं। साथ ही कई लोग हमें अपनी पसंद का डिजाइन बनाने के लिए सैंपल भेजते हैं। वे हमें अपनी डिमांड बता देते हैं, जिसके बाद हम वैसा डिजाइन तैयार कर उन्हें सैंडल भेज देते हैं। इसके लिए हमने चार और लोगों को काम पर रखा हैं। उन्हें हर महीने 10 हजार रुपए सैलरी भी देते हैं।

मार्केट कैसे डेवलप किया

नाजिश बताती हैं कि मार्केटिंग के लिए हम सोशल मीडिया का सबसे ज्यादा इस्तेमाल करते हैं। आज के दौर में लोगों तक पहुंचने का यह सबसे बेहतर माध्यम है। हमने सोशल मीडिया के सभी प्लेटफॉर्म्स पर पेज डेवलप किया है, जहां से लोग अपनी पसंद के प्रोडक्ट ऑर्डर कर सकते हैं। इसके साथ ही अलग-अलग शहरों में हम अपनी प्रदर्शनी भी लगाते हैं। वहां आने वाले लोगों को अपने प्रोडक्ट की खासियत बताते हैं। हम लोग बॉलीवुड सेलिब्रिटी से भी मिलते हैं और उनके डिमांड्स के हिसाब से ऑर्डर लेते हैं। विद्या बालन, सारा अली खान, परिणीति चोपड़ा सहित दर्जनों सेलिब्रिटी से हम मिल चुके हैं। वे लोग आज हमारे प्रोडक्ट इस्तेमाल कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here