Home हिंदी महाराष्ट्र सीसीटीएनएस को पहला पुरस्कार

महाराष्ट्र सीसीटीएनएस को पहला पुरस्कार

663
0

‘इम्प्लिमेंटेशन आॅफ आईसीजेएस एंड सीसीटीएनएस सर्च’ में किया बेहतरीन काम

पुणे ब्यूरो : 15 और 16 दिसंबर के दौरान नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो, नई दिल्ली में आयोजित आॅनलाइन ‘गुड प्रैक्टिसेस इन सीसीटीएनएस/ आईसीजेएस’ की कॉन्फ्रेंस में महाराष्ट्र सीसीटीएनएस को ‘इम्प्लिमेंटेशन आॅफ आईसीजेएस एंड सीसीटीएनएस सर्च’ में देश में पहला पुरस्कार प्रदान किया गया.
उल्लेखनीय है कि आईसीजेएस और सीसीटीएनएस सर्च प्रणाली की पुलिस जांच में अपराधों की जांच, पर्यवेक्षण, अपराध को प्रतिबंध करना आदि में सहायता होती है. इस प्रणाली का महाराष्ट्र पुलिस द्वारा बेहतर तरीके से इस्तेमाल किया जा रहा है.

ऐसे हासिल की कामयाबी

सीसीटीएनएस और आईसीजेएस प्रणाली की सहायता से 1573 अपराधों को उजागर किया गया है. 743 चोरी गई संपत्ति का पता लगाया गया है. वही इसी प्रणाली की सहायता से 693 गुम हुए, लावारिसों की खोज, 7883 आरोपियों पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई, 507 मामलों में जमानत ठुकराई गई है. साथ ही 13721 लोगों की जांच भी इसी के माध्यम से की गई है. 4601 लोगों के खिलाफ मामले दर्ज होने की जानकारी मिली है. कुल 117026 मामलों में 2837 अपराध दर्ज होने की जानकारी भी उजागर हुई है.

इनका मिला योगदान

इस कार्रवाई में अपर पुलिस महानिदेशक अतुलचंद्र कुलकर्णी, विशेष पुलिस महानिरीक्षक प्रवीण सालुंके, पुलिस उप महानिरीक्षक (प्रशासन) तथा अतिरिक्त कार्यभार विशेष पुलिस महानिरीक्षक (स्टेट सीआईडी) रंजन कुमार शर्मा के मार्गदर्शन में कम्प्युटर सेक्शन के पुलिस अधीक्षक (तकनीकी सेवा) संभाजी कदम, अपर पुलिस अधीक्षक श्रीमती नंदा पाराजे, पुलिस उप अधीक्षक जितेंद्र कदम, पुलिस उप अधीक्षक चंद्रशेखर सावंत, पुलिस निरीक्षक प्रशांत पांडे, शशीकला काकरे, प्रमोद जाधव, पुलिस उपनिरीक्षक जावेद खान, किरण कुलकर्णी, संदीप शिंदे, प्रियंका शितोले, कीर्ति लोखंडे आदि शामिल थे.


रीडर्स आप आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम को ट्वीटर, इंस्टाग्राम और फेसबुक पर फॉलो कर रहे हैं ना? …. अबतक ज्वाइन नहीं किया है तो अभी क्लीक कीजिये (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020) और पाते रहिये हमारे अपडेट्स.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here