Home हिंदी लंबाई बनी मुसीबत | लड़कियां कर देती हैं शादी से इनकार

लंबाई बनी मुसीबत | लड़कियां कर देती हैं शादी से इनकार

आमतौर पर लोग लंबाई बढ़ाने के लिए कई तरह की कोशिश करते है. लेकिन उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में एक शख्स ऐसे है जो अपनी लंबाई से परेशान है. धर्मेंद्र प्रताप सिंह के लिए उनकी लंबाई मुसीबत बन गई है। वह लंबे हैं और उनकी लंबाई बढ़ती ही जा रही है। धर्मेंद्र प्रताप सिंह का कहना है कि उनकी लंबाई 8 फीट दो इंच है। उन्हें देखते ही लड़कियां शादी करने से इनकार कर देती हैं।

अब तो 45 के हो गए
धर्मेंद्र ने बताया कि वह 45 वर्ष के हो चुके हैं और अभी तक वह अविवाहित हैं। उन्होंने बताया कि कई रिश्तेदारों ने उनकी शादी करवानी चाही, लेकिन इसमें सफलता हासिल नहीं हुई। उन्होंने कहा, ‘मेरी लंबाई देखकर लड़कियां मुझसे शादी करने से इनकार कर देती हैं। जैसे-जैसे उम्र गुजरती जा रही है, मुझे जीवनसाथी की जरूरत महसूस हो रही है।’ धर्मेंद्र ने यह भी कहा कि अब उन्होंने शादी करने और अपना परिवार बसाने की उम्मीद छोड़ दी है।

रैलियों में करते हैं प्रचार 
प्रतापगढ़ के नरहरपुर कसियाही गांव के निवासी धर्मेंद्र ने अपनी लंबाई के कारण ख्याति अर्जित की है। वह समाजवादी पार्टी से जुड़े हैं और चुनाव के दौरान पार्टी के लिए प्रचार करते हैं। वास्तव में वह राजनीतिक रैलियों में एक प्रमुख प्रचारक के रूप में जाने जाते हैं।

सेल्फी लेने वाले बहुत हैं
धर्मेंद्र के पास मास्टर की डिग्री है। वह कई बार काम की तलाश में दिल्ली और मुंबई जा चुके हैं। उन्होंने कहा, लोग मेरे साथ सेल्फी लेते हैं और मुझे पैसे और उपहार देते। मैं दिल्ली के कनॉट प्लेस और मुंबई में गेटवे ऑफ इंडिया में जाता हूं तो वहां पर्यटक मुझे देखकर रोमांचित हो जाते हैं। हालांकि, लॉकडाउन और महामारी के बाद मैंने यात्रा करना बंद कर दिया है और मेरी आय भी रुक गई है।

सर्जरी हुई तो बेड बड़ा करना पड़ा
पिछले साल अहमदाबाद में धर्मेंद्र ने एक बाइलेट्रल हिप रिप्लेसमेंट सर्जरी कराई। गठिया के दर्द के कारण उन्हें चलने में कठिनाई हो रही थी, जिसके बाद उन्होंने सर्जरी करवाई। लंबे आदमी का इलाज करने की अपनी चुनौतियां थीं। अस्पताल में उनके बिस्तर से लेकर ऑपरेशन थियेटर की मेज तक सब कुछ मरीज की लंबाई के अनुसार करना पड़ा। इसके अलावा धर्मेंद्र की सर्जरी के लिए जिन चीजों का इस्तेमाल किया जाना था, उन्हें विशेष रूप से चेन्नई से लाया गया, क्योंकि वे सामान्य आकार की नहीं थी। मुंबई में टैक्सी ड्राइवर के रूप में काम करने वाले धर्मेंद्र के भाई रामेंद्र भी लॉकडाउन के बाद अब गांव लौट आए हैं।


रीडर्स आप आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम को ट्वीटर, इंस्टाग्राम और फेसबुक पर फॉलो कर रहे हैं ना? …. अबतक ज्वाइन नहीं किया है तो अभी क्लीक कीजिये (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020) और पाते रहिये हमारे अपडेट्स.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here