Home हिंदी कहानी में ट्वीस्ट : संघर्ष जरूर किया लेकिन कभी सिलबट्टे बनाकर नहीं...

कहानी में ट्वीस्ट : संघर्ष जरूर किया लेकिन कभी सिलबट्टे बनाकर नहीं बेचे

1192

महाराष्ट्र के भंडारा जिले की पीएसआई पद्मशीला तिरपुडे से अब हम सभी परिचित हो गए है. पिछले दो- तीन दिनों से सोशल मीडिया की वायरल पोस्ट की वजह से उनके बारे में सभी को पता चला चुका है. लेकिन अब उन्होंने खुद उनको लेकर सोशल मीडिया में वायरल हो रही कहानी में ट्वीस्ट ला दिया है. उनका कहना है कि उन्होंने अपने जीवन में बहुत संघर्ष जरूर किया है लेकिन कभी सिलबट्टे नहीं बेचे है.

कहानी में ट्वीस्ट ये है कि पीएसआई पद्मशीला के अनुसार ये तस्वीर झूठी है।

सोशल मीडिया की कहानी ये थी…
सोशल मीडिया में वायरल हो रही अलग अलग पोस्ट में ये दावा किया गया था कि पद्मशीला ने मजदूरी कर पत्थर के सिलबट्टे बनाकर बेचने के साथ पढ़ाई जारी रखी और एक दिन ये मेहनत रंग लायी. इसी के साथ एक औरत का बच्चा लेकर सिलबट्टे बेचता हुआ फोटो भी वायरल हुआ, जिसे लेकर ये दावा किया गया कि ये महिला ही पद्मशीला है.

क्या कहती है पद्मशीला…
लेकिन इस पोस्ट के वायरल हो जाने के बाद अब पीएसआई पद्मशीला ने कहा है कि इस पोस्ट में जो दावा किया गया है वह झूठा है. उनका कहना है कि उन्होंने अपने जीवन में कभी सिलबट्टे बनाकर नहीं बेचे है. इस तरह की खबरों की वजह से कई लोग उन्हें अब फोन करने लगे है. इससे उन्हें बेहद परेशानी भी हो रही है. हालांकि उनका कहना है कि उन्होंने अपने जीवन में बहुत ज्यादा संघर्ष जरूर किया है. इस संघर्ष के बाद ही उन्हें कामयाबी हासिल हुई है. यहां बता दे कि सोशल मीडिया में उनकी परिवार के साथ जो फोटो वायरल हो रही है. वह भी 2013 की फोटो है. उसी समय उनका सलेक्शन हुआ था.


  • रीडर्स आप आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम को ट्वीटर, इंस्टाग्राम और फेसबुक पर फॉलो कर रहे हैं ना? …. अबतक ज्वाइन नहीं किया है तो अभी क्लीक कीजिये (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020और पाते रहिये हमारे अपडेट्स.