Home हिंदी सरकार अपने इमरजेंसी रिजर्व से 50 लाख बैरल तेल रिलीज करेगी, 3...

सरकार अपने इमरजेंसी रिजर्व से 50 लाख बैरल तेल रिलीज करेगी, 3 रुपए तक कम हो सकते हैं दाम

483

कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों से निपटने के लिए भारत अपने स्ट्रैटजिक (इमरजेंसी) पेट्रोलियम रिजर्व में से 50 लाख बैरल रिलीज करेगा। कच्चे तेल के इमरजेंसी स्टॉक को रिलीज करने का प्लान अमेरिका ने भारत, जापान समेत कुछ बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देशों के साथ मिलकर बनाया है। इस कदम से पेट्रोल-डीजल के दाम कुछ कम हो सकते हैं।

पेट्रोलियम और नेचुरल गैस मिनिस्ट्री की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि ‘लिक्विड हाइड्रोकार्बन्स का प्राइस रीजनेबल और मार्केट फोर्सेज की ओर से निर्धारित होना चाहिए। तेल उत्पादक देशों की ओर से जानबूझकर तेल की सप्लाई को डिमांड के लेवल से नीचे रखा जा रहा है। इस पर भारत अपनी चिंता बार-बार व्यक्त करता रहा हैं। तेल उत्पादक देशों की कम सप्लाई से कच्चे तेल की कीमतों में उछाल आया है।’

बयान में कहा गया है कि ‘भारत अपने स्टैटजिक पेट्रोलियम रिजर्व से 5 मिलियन बैरल कच्चा तेल रिलीज करने पर सहमत हो गया है। इसे अमेरिका, चाइना, जापान और कोरिया सहित अन्य प्रमुख ग्लोबल एनर्जी कंज्यूमर के कंसलटेशन से रिलीज किया जाएगा।’

अगर कच्चे तेल की घटती कीमतों का फायदा पेट्रोलियम कंपनियां आम लोगों को देती हैं तो पेट्रोल-डीजल की कीमतों में प्रति लीटर 2 से 3 रुपए तक की कमी हो सकती है। हालांकि अगर आने वाले दिनों में डॉलर के मुकाबले रुपया कमजोर होता है तो कीमतों का कम होना मुश्किल हो जाएगा। कच्चा तेल अभी 80 डॉलर प्रति बैरल के आसपास कारोबार कर रहा है।

बाजार में तेल की सप्लाई बढ़ाने के लिए स्ट्रैटजिक ऑयल रिजर्व को रिलीज किया जा रहा है। अमेरिका, भारत, साउथ कोरिया और जापान की कोशिश कच्चे तेल की कीमतों को 70 डॉलर प्रति बैरल पर लाने की है। चीन ने भी स्ट्रैटजिक रिजर्व से तेल रिलीज करने की तैयारी कर ली है। अगर क्रूड के दाम 70 डॉलर तक आ जाते हैं तो जाहिर तौर पर भारतीय ग्राहकों को भी पेट्रोल-डीजल और LPG की कम कीमतों के रूप में इसका फायदा मिलेगा।

भारत के पास ईस्ट और वेस्ट कोस्ट की तीन लोकेशन पर लगभग 3.8 करोड़ बैरल कच्चे तेल का स्टॉक है। इसमें से 50 लाख बैरल रिलीज किया जाएगा। स्टॉक को मैंगलोर रिफाइनरी एंड पेट्रोकेमिकल्स लिमिटेड (MRPL) और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (HPCL) को बेचा जाएगा। ये दोनों रिफाइनरी पाइपलाइन के जरिए स्ट्रैटजिक रिजर्व से जुड़ी हैं। एक सरकारी अधिकारी ने कहा कि बाद में और ज्यादा स्टॉक भी रिलीज किया जा सकता है।

Previous article#Maharashtra । एनसीबी आरोपीच्या पिंजऱ्यात? मुंबई पोलिस चौकशी करणार; गृहमंत्री वळसे पाटील यांचे आदेश
Next article#Maharashtra । एस.टी. कर्मचाऱ्यांसाठी आजचा मोठा दिवस, पगारवाढीसंदर्भात महत्वाची बैठक, तोडगा निघणार?
वाचकांनो आपन “आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम” ला ट्वीटर, इंस्टाग्राम आणि फेसबुक पर फॉलो करत आहात ना? अजूनपर्यंत ज्वाइन केले नसेल तर आमच्या अपडेट्स साठी आत्ताच क्लिक करा (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (यू ट्यूब-@aatmnirbhar khabar )(फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020).