Home कोरोना स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कोवैक्सीन लगाने क बाद कहा- ये करोना के...

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कोवैक्सीन लगाने क बाद कहा- ये करोना के खिलाफ संजीवनी

देश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने अपनी पत्नी नूतन गोयल के साथ दिल्ली हार्ट एंड लंग इंस्टीट्यूट में कोरोना वैक्सीन लगवाई. हर्षवर्धन और उनके परिवार को भारत बायोटेक की कोवैक्सीन की डोज दी गई. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कोरोना वैक्सीन लगवाई थी.

वैक्सीन लगवाने के बाद हर्षवर्धन ने कहा, ‘हम दोनों को कोवैक्सीन लगाई गई है. वैक्सीन लगवाने के बाद किसी तरह की कोई समस्या नहीं हुई. वैक्सीन कोविड के खिलाफ लड़ाई में संजीवनी का काम करेगी. मैंने और पत्नी ₹250 डोज़ देकर लगवाया है, जो लोग वैक्सीन अफ़्फोर्ड कर सकते हैं वो पास के प्राइवेट अस्पताल में लगवा लें.’

स्वास्थ्य मंत्री ने ये भी कहा, ‘अब सब लोग वैक्सीन जल्द से जल्द लगवाकर 28 दिन बाद दूसरी डोज लगवाएं. छोटे मोटे साइड इफेक्ट की चिंता न करें. अभी तक छोटे मोटे साइड इफेक्ट भी ना के बराबर हैं, किसी भी व्यक्ति वैक्सीन के चलते उसकी मौत नहीं हुई है.’

दूसरे फेज में पीएम मोदी ने ली पहली वैक्सीन

कोरोना वायरस के खिलाफ वैक्सीनेशन अभियान के दूसरे चरण के पहले दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी वैक्सीन की पहली डोज ली. पीएम मोदी सुबह-सुबह दिल्ली एम्स पहुंचे और टीका लगवाया. इसके साथ साथ ही उन्होंने देशवासियों से वैक्सीन लगवाने की अपील भी की है. उन्होंने ट्वीट करके कहा कि ‘मैंने एम्स में कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक ली, यह तारीफ के काबिल है कि कैसे हमारे डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने कोरोना के खिलाफ वैश्विक लड़ाई को मजबूती देने के लिए तेजी से काम किया.’ उन्होंने कहा कि मैं सभी से अपील करता हूं जो भी वैक्सीन लगवाने के योग्य है, वह भारत को कोरोना मुक्त बनाने में साथ आए.

पहले राउंड में कोरोना फ्रंट लाइन वर्कर्स को लगा टीका

पहले राउंड में कोरोना वॉरियर्स और फ्रंट लाइन वर्कर्स को कोरोना का टीका लगाया गया था जबकि दूसरे राउंड में 60 वर्ष से ज़्यादा और 45 साल से अधिक आयु के पुरानी गंभीर बीमारी से ग्रस्त लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है. दूसरे चरण के टीकाकरण के पहले दिन 29 लाख लोगों ने CoWIN पोर्टल पर अपना नाम रजिस्‍टर कराया है. .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here