Home Maharashtra Nagpur Metro | दूसरे चरण को मिली मंजूरी,हमारे कार्यो की सफलता

Nagpur Metro | दूसरे चरण को मिली मंजूरी,हमारे कार्यो की सफलता

342
0
  • अधिक क्षमता से कार्य करने की जरुरत
  • छठे स्थापना दिन समारोह में डॉ.दिक्षीत ने कहा

नागपुर ब्यूरो : नागपुर मेट्रो रेल परीयोजना द्वारा किये गये कार्यो के कारण ही नागपुर मेट्रो रेल के दूसरे चरन के कार्यो को केंद्रीय बजट मे स्वीकृती प्रदान की गईI यह हमारे लिए गौरव की बात है कि प्रथम चरण का कार्य पुरा होने के पहले ही सेकंड फेज की अनुमती प्राप्त हो गई. यह एक सामान्य बात नही है,महज 6 वर्ष पूर्व स्थापित संस्था द्वारा किये गए अभूतपूर्व और असाधारण कार्य का ये नतीजा हैI इस उपलब्धी के लिए महा मेट्रो की टीम उनके परिवार जन तथा प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से मेट्रो से जुडे प्रत्येक नागरिक बधाई के पात्र हैI उक्त विचार महा मेट्रो के प्रबंध निदेशक डॉ.ब्रजेश दिक्षित ने व्यक्त किएI वे नागपुर मेट्रो रेल परियोजना के छठें स्थापना दिन निमित्त मेट्रो भवन के गुंज सभागृह मे उपस्थितों को संबोधित कर रहे थेI

उल्लेखनीय है कि महा मेट्रो की ओर से हर वर्ष स्थापना दिन निमित्त विविध विषयो पर कार्यक्रम आयोजित किए जाते रहे है. इनमे मेट्रो मित्र मेला, नागपुरीयन लाईफ स्टाईल आदी विषय थे. इस वर्ष प्रोजेक्ट बनाने और चलाने में सहयोग करनेवाले विविध क्षेत्र के ज्ञानी, जाने-माने गणमान्यो का सत्कार कर विचार विमर्श किया गया. महिला सुरक्षा, महा कार्ड, फिडर सर्विस पर संगोष्टी का आयोजन किया गया. वक्ताओ को जोडने का प्रयास किया गया. वरिष्ठ नागरिक, स्कुली छात्र छात्राओ ने भी कार्यक्रम में भाग लिया. प्रबंध निदेशक डॉ ब्रिजेश दिक्षित ने सत्कार मूर्ती सचिन ढोमणे, आनंद निर्बाण, जुगल किशोर बोरकर, निखील वानखेडे और सुधीर डबीर का शाल श्रीफल से सत्कार किया.

डॉ.दिक्षित ने हर्ष व्यक्त करते हुए कहा कि छठे वर्ष में हमे हमारे कार्यो ने एक नहीं अनेक उपलबद्धीयो से नवाजा हैI इनमे नई मुंबई के अधुरे कार्य को पुर्ण करने की जिम्मेदारी के अलावा नासिक मेट्रो का कार्य भी शामिल हैI उन्होने कहा कि जिस लगन, संयम और कर्तव्य परायणता से हमने काम किया है उससे और अधिक क्षमता से हमे काम करने की जरुरत हैI जितनी चुनौतियो का हम सामना करेंगे उससे कई गुना सफलता प्राप्त होगी,इसमे कोई संदेह नही हैI

उन्होने कहा की हमारी कोशिश है कि महा मेट्रो की कार्यप्रणाली नागरीको के अनुकूल हो, ताकी अधिक से अधिक लोगो को विश्वस्तरिय परिवहन सुविधा का लाभ मिल सकेI मेट्रो भवन की इमारत के अलावा मेट्रो स्टेशन और कार्यालय की चर्चा करते हुए कहा कि मेट्रो के कार्यो की भव्यता और दिव्यता देखकर आगंतुक विदेशी भी भौचक रह जाते हैI प्रबंध निदेशक ने कहा कि निर्माण और मेट्रो ट्रेनो के संचालन के साथ ही अब हमे सेवा प्रदान करने वाली मानसिकता को अंगीकार करना होगा, क्योंकी हमारा व्यवहार ही जनमानस में हमारी छवि का परिचालक होगाI

डॉ.दिक्षित ने मेट्रो परिवार को आश्वस्त करते हुए कहा कि गुणवत्तापूर्ण कार्य करते रहिए आपकी अपेक्षाए पुरी होगीI हमारी कार्यप्रणाली मे चूक यदि होती है तो प्रथम चरण का कार्य पुरा होने के पहले हमे दूसरे चरण की मंजूरी नहीं मिलतीI उन्होने कहा कि फेज-3 की भी चार्चाए सुनने को मिल रही हैI यह हमारी कार्य के प्रति निष्टा और ईमानदारी का ही फल हैI 6 वर्ष के कार्यकाल में एक एक दिन का सदुपयोग कर एक एक तील को संचय किया है,तब जाकर हमें सफलता मिली हैI फेज 2 चरण के कार्य की मंजुरी ने हममें नई चेतना का संचार किया हैI आगामी नए वर्ष के प्रथम तिमाही में दूसरे चरण के कार्य का श्रीगणेश करने का विश्वास व्यक्त कियाI

सपना हुआ साकार : सचिन ढोमणे
चर्चासत्र में महा मेट्रो के ब्रांड अम्बेसेडर विश्वविख्यात कलाकार सचिन ढोमणे ने कहा कि 10 वर्ष पूर्व विदेश के दौरे के दौरान वहा की सुविधा और व्यवस्था को देखकर मन इस बात को लेकर दुखी होता था की यह नजारा मेरे शहर में कब साकार होगा? जैसा मन चाहता था, हु ब हू महामेट्रो के प्रबंध निदेशक डॉ.ब्रजेश दिक्षित ने अल्पअवधी में साकार कर दियाI नवोदित कलाकारो को प्रोत्साहन देने के लिए विदेश की तर्ज पर ब्रांड स्टेन्ड उपलब्ध करा दियाI उन्होने कहा की माझी मेट्रो में प्रतिदिन 2 लाख नागरिक सफर करेंगे, अब वह दिन दूर नहीं।

विकास की रेखा खींची: आनंद निर्बाण
विदर्भ सेवा समिति के अध्यक्ष, वरिष्ठ पत्रकार आनंद निर्बाण ने कहा कि महामेट्रो के प्रमुख डॉ.दीक्षित ने अपनी कार्यप्रणाली से इस शहर में विकास की रेखा खींची हैI मेट्रो रेल के गुणवत्तापूर्ण हुए कार्य में कही भी कोई खामी नजर नहीं आती। कुशल व्यवस्थापन,नेतृत्व और टीम वर्क की अनोखी मिसाल कायम की हैI आनेवाले समय में नई पिढी के लिए महामेट्रो संशोधन का विषय रहेगा और क्योंकी निर्माण के साथ शहर विकास के प्रत्येक पहेलू की दूरदृष्टी नागपुर मेट्रो रेल परियोजना में सम्माहित हैI महामेट्रो ने 6 वर्ष के कार्यकाल मे इतिहास रचा हैI

मेट्रो से खुशहाली: निखील वानखेडे
चर्चासत्र में निखील वानखेडे ने व्यथा व्यक्त करते हुए कहा कि खापरी जाने के लिए मेट्रो ट्रेन मुझे नहीं मिलती तो मुझे शारीरिक तकलीफ के कारण नोकरी से बेदखल होना पडताI कोराडी से मिहान तक सफर रोजाना करने से कमरदर्द की शिकायत हुई। डॉक्टर की राय के अनुरूप या तो बाईक से आना जाना बंद या नौकरी से बेदखल होना थाI मा की सलाह पर मेट्रो से आना जाना शुरू किया और आज मै स्वस्थ और परिवार खुशहाल हैI

लाईफ लाईन बन रही : सुधीर डबीर
मेट्रो रेल शहर की लाईफ लाईन बन रही है. नागरिको के सपनो को साकार करने में महा मेट्रो की टीम सक्रिय भूमिका निभा रही है, यह भावना सुधीर डबीर ने व्यक्त की।

मेट्रो से यात्रा करे: किशोर बोरकर
शिक्षक जुगल किशोर बोरकर ने विद्यार्थीयो से मेट्रो और रेल सेवा का उपयोग करणे का आवाहन किया. सुरक्षित यात्रा और प्रदूषण मुक्त शहर बनाने में सहयोग की अपिल की . कार्यक्रम के प्रारंभ में दीप प्रज्वलन प्रबंध निदेशक ने किया. प्रमुख रूप से संचालक (प्रकल्प) महेश कुमार, संचालक (रोलिंग स्टॉक ) सुनील माथूर, संचालक(वित्त) एस शीवमाथन उपस्थित थे. आभार प्रदर्शन कार्यकारी निदेशक अनिल कोकाटे ने किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here