Home International ‘आत्मनिर्भरता’ बना बीते साल का हिंदी शब्द, ऑक्सफोर्ड ने दिया खिताब

‘आत्मनिर्भरता’ बना बीते साल का हिंदी शब्द, ऑक्सफोर्ड ने दिया खिताब

972
‘आत्मनिर्भरता’ शब्द को ऑक्सफोर्ड भाषा ने अपना साल 2020 के लिए हिंदी शब्द घोषित किया है. उसके मुताबिक, यह असंख्य भारतीयों की रोजाना की उपलब्धियों को मान्यता देता है जिन्होंने महामारी के संकट का सामना किया. इस शब्द को भाषा जानकारों के एक एडवायजरी पैनल ने चुना, जिसमें क्रितिका अग्रवाल, पूनम निगम सहाय और Imogen Foxell शामिल हैं.

आगे कहा गया है कि प्रधानमंत्री के संबोधन के बाद ‘आत्मनिर्भरता’ शब्द के इस्तेमाल में बड़ी वृद्धि हुई, जो भारत के सार्वजनिक शब्दकोश में इसके बढ़ते महत्व को उजागर करता है.

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर सिवरामकृष्णन वेंकटेशवरन ने कहा कि इस अप्रत्याशित साल में पूरे आत्मनिर्भर भारत अभियान की बड़ी सफलता बड़े स्तर पर भारत में कोविड-19 वैक्सीन की मैन्युफैक्चरिंग है. गणतंत्र दिवस परेड में, बायोटेक्नोलॉजी विभाग ने आत्मनिर्भर भारत अभियान और कोविड-19 वैक्सीन डेवलपमेंट की प्रक्रिया को दिखाया. उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत सभी वर्ग के लोगों से जुड़ा क्योंकि इसे कोविड-19 से प्रभावित अर्थव्यवस्था के रिवाइवल का जवाब माना गया.

इससे पहले ऑक्सफोर्ड के साल के बड़े हिंदी शब्द आधार (2017), नारी शक्ति (2018) और संविधान (2019) रहे हैं. अग्रवाल ने कहा कि यह शब्द युवाओं औप बूढ़ों द्वारा दिखाई ताकत को आवाज देता है जिन्होंने मुश्किल स्थिति का दृढ़ निश्चय और आत्मनिर्भरता के साथ सामना किया.

बीते साल की स्थिति बताता है शब्द

बयान में कहा गया है कि ऑक्सफोर्ड साल का हिंदी शब्द वह होता है कि जो बीते साल के स्वभाव, स्थिति को बताता है और सांस्कृतिक महत्व होता है. ऑक्सफोर्ड भाषा ने बयान में कहा कि महामारी के शुरुआती महीनों में. जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के कोविड-19 रिकवरी पैकेज का एलान किया, तो उन्होंने देश, अर्थव्यवस्था, समाज और व्यक्तिगत तौर पर आत्मनिर्भर बनने की जरूरत पर जोर दिया, जिससे महामारी के संकट का सामना किया जा सके.