Home हिंदी Diwali | कुछ खास तरह से सजाएं दीए, झिलमिल होगा आपका आंगन

Diwali | कुछ खास तरह से सजाएं दीए, झिलमिल होगा आपका आंगन

1109

दिवाली रोशनी का त्‍योहार है और इसमें दीए जलाना इस उत्‍सव को मनाने की बरसों से चली आ रही एक परंपरा है. यही वजह है कि जब तक दीए न जलाए जाएं दिवाली का त्‍योहार अधूरा अधूरा लगता है. यही वजह है कि सदियों से दीयों को जलाया जाता रहा है. अब तो मिट्टी से बनें तरह -तरह के आकर्षक दीए आने लगे हैं.

इस बार आप भी अपने घर में मिट्टी के इन दीयों को कुछ इस तरह से सजाएं कि रोशनी के इस पर्व का मजा दोगुना हो जाए. आज कल बाजार में भी बहुत ही खूबसूरत दीए मिल जाते हैं. इसलिए आप अलग अलग डिजाइन और अलग रंग के दीए लाकर भी आंगन में सजा सकते हैं. चाहें तो खुद भी इन दीयों को अलग रंग दे सकते हैं.

इस तरह दीयों को दें आकर्षक लुक

मिट्टी के सादे दिखने वाले दीयों को आप आकर्षक लुक दे सकते हैं. इन्‍हें सिरेमिक कोन की मदद से बारीक डिजाइन के जरिये दीयों को सजाएं. आप इन दीयों पर गोल्डन और सिल्वर रंगों का इस्तेमाल भी कर सकते हैं. इससे ये और आकर्षक लगेंगे.

आकृतियां बना कर बढ़ाएं खूबसूरती

इसके अलावा मिट्टी के दीयों पर आकर्षक रंगों के अलावा इन पर फूल, पत्तियां और मोर आदि की आकृतियां बना कर भी इन्‍हें अपने मनमुताबिक ढाल सकते हैं. इससे ये इतने ज्यादा अलग लगेंगे, कि आप भी चौंक जाओगे.

लगाएं स्‍टोन्‍स और मोती

मिट्‌टी के कुल्हड़ में चुस्कियों से चाय का मजा लिया होगा. अब इन्‍हीं कुल्‍हड़ को दीयों की तरह इस्‍तेमाल करके इनसे निकलती रोशनी को भी देखिएगा. अलग ही खूबसूरती बिखरती दिखेगी. हालांकि इतना ध्‍यान रखें कि इन्‍हें एक रात पहले पानी में डाल कर रख दें. फिर इन्‍हें सूखने दें और अब इन पर अपने पसंदीदा रंग लगा सकते हैं. मोती, स्‍टोन्‍स आदि इनकी खूबसूरती बढ़ाएंगे.

मनपसंद रंगों से रंग लें दीए

इस बार अपनी दिवाली में दीयों को अलग रंग दीजिए. इसके लिए बाजार में मिलने वाले छोटे छोटे दीयों को लाएं और इनको अपनी पसंद के रंग में रंग लें. रंग बिरंगे दीए जब रोशनी से झिलमिल होंगे तो अलग ही खूबसूरती नजर आएगी. इससे आपकी दिवाली की खुशिया भी दोगुनी हो जाएगी.


रीडर्स आप आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम को ट्वीटर, इंस्टाग्राम और फेसबुक पर फॉलो कर रहे हैं ना? …. अबतक ज्वाइन नहीं किया है तो अभी क्लीक कीजिये (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020और पाते रहिये हमारे अपडेट्स.

Previous articleDiwali | आदिवासियों के साथ हर्ष उल्लास के साथ मनाई दीपावली
Next articleDiwali | कब है धनतेरस, जानें शुभ मुहुर्त, पूजा विधि और महत्व ?
वाचकांनो आपन “आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम” ला ट्वीटर, इंस्टाग्राम आणि फेसबुक पर फॉलो करत आहात ना? अजूनपर्यंत ज्वाइन केले नसेल तर आमच्या अपडेट्स साठी आत्ताच क्लिक करा (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (यू ट्यूब-@aatmnirbhar khabar )(फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020).