Home हिंदी ‘सोलर साइंस’ : ऊर्जा के क्षेत्र में हर घर को ‘आत्मनिर्भर’ बनाने...

‘सोलर साइंस’ : ऊर्जा के क्षेत्र में हर घर को ‘आत्मनिर्भर’ बनाने की कवायद

नई दिल्ली ब्यूरो : हर महीने बिजली का बिल इतना ज्यादा क्यों आता है, यह सवाल हम सभी के घरों में अक्सर पूछा जाता है. इस प्रश्न का उत्तर यदि आपने बिजली का बिल भेजने वालों से भी पूछ लिया तो उनके पास भी नहीं होगा. इसलिए बिजली का बिल घटाने की जुगत में जुटने से अच्छा है कुछ ऐसा किया जाए कि बिजली का बिल ही न आए. ऐसा हो सकता है. क्योंकि इसमें कोई रॉकेट साइंस नहीं बल्कि ‘सोलर साइंस’ है. अब आप भी ऊर्जा के क्षेत्र में ‘आत्मनिर्भर’ बन सकते है.

सोलर एनर्जी (solar energy) बड़ी तेजी से गांव, कस्बों और शहरों में अपनी पैठ बना रहा है. भारत सरकार भी अक्षय ऊर्जा को लेकर कई योजनाएं चला रही हैं. पानी या कोयले से बनने वाली बिजली पर हमारी निर्भरता कम हो, इसके लिए केंद्र समेत तमाम राज्य सरकारें भी सौर ऊर्जा पर सब्सिडी दे रही हैं. आज खेत-खलियानों से लेकर घर, दफ्तर, फैक्ट्री में तो सौर ऊर्जा का इस्तेमाल हो ही रहा है. बस, कार और ट्रेनें तक अब सौर ऊर्जा से चल रही हैं. महाराष्ट्र में तो नागपुर मेट्रो ने अपने ज्यादातर मेट्रो स्टेशनों पर सोलर पैनल लगा रखे है.

ऐसे मिलेगा बिजली के बिल से छुटकारा
सोलर एनर्जी योजना की इस कड़ी में हरियाणा सरकार ऊर्जा के क्षेत्र में हर घर को ‘आत्मनिर्भर’ बनाने के लिए सौर ऊर्जा को बढ़ावा दे रही है. राज्य के हर घर में सोलर पैनल (solar panel) लगाने के लिए विशेष स्कीम चलाई जा रही है. इस योजना के तहत हर परिवार ऊर्जा के मामले में ‘आत्मनिर्भर’ हो जाएगा और उसे बिजली का बिल देने से छुटकारा मिल जाएगा.

क्या है मनोहर ज्योति योजना?
हरियाणा सरकार ने 2017 में राज्य के लोगों के लिए मनोहर ज्योति योजना शुरू की थी. हरियाणा रिन्यूवल एनर्जी डिपार्टमेंट एजेंसी (HAREDA) के साइंटिफिक इंजीनियर पी. के. नौटियाल कहते है कि यह योजना हरियाणा के सभी परिवारों के लिए है. इस योजना का मकसद राज्य के अंदर सोलर सिस्टम के तहत अक्षय ऊर्जा को बढ़ावा देना है. योजना के तहत हर परिवार को एक 150 वाट का सोलर सिस्टम दिया जाता है. सोलर सिस्टम के साथ लीथियम की बैटरी भी दी जाती है. इस सिस्टम से 3 LED लाइट, एक पंखा और मोबाइल चार्जिंग पोर्ट चलाया जा सकता है. तमाम सामान की लागत 22,500 रुपये आती है. हरियाणा सरकार इस पर 15,000 रुपये की सब्सिडी दे रही है. इस तरह महज 7,500 रुपये जमा करके आप अपने बिजली का बिल बचाते हुए ऊर्जा के क्षेत्र में “आत्मनिर्भर” बन सकते है.

कैसे कर सकते हैं आवेदन
मनोहर ज्योति योजना का फायदा लेने के लिए आपके पास आधार कार्ड, बैंक खाता, हरियाणा का निवासी होने का मूल निवासी प्रमाण पत्र होना चाहिए. आपका बैंक खाता आपके आधार नंबर से जुड़ा हुआ होना चाहिए. इस योजना के तहत घर पर सोलर पैनल लगवाने के लिए आपको hareda.gov.in वेबसाइट पर विजिट करना होगा. ज्यादा जानकारी के लिए फोन नंबर 0172-2586933 पर भी संपर्क किया जा सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here