Home हिंदी मार्केटिंग छोड़ चुनी आत्‍मनिर्भरता की राह

मार्केटिंग छोड़ चुनी आत्‍मनिर्भरता की राह

पालमपुर : पालमपुर के राकेश कुमार ने कांगड़ा चाय में संभावनाओं को देखते हुए न केवल खुद को स्वरोजगार से जोड़ा है बल्कि छह अन्य युवाओं को भी रोजगार दे रहे हैं। देश सहित प्रदेश में कोरोना संकट के दौरान कई लोगों का रोजगार जा रहा है। लेकिन कई लोग इससे घबरा कर नहीं, बल्कि सबक लेकर आगे बढ़ रहे हैं। जिला कांगड़ा के उपमंडल पालमपुर के ग्वालटिक्कर गांव के युवा राकेश कुमार ने कांगड़ा चाय में संभावनाओं को देखते हुए न केवल खुद को स्वरोजगार से जोड़ा है, बल्कि छह अन्य युवाओं को भी रोजगार दे रहे हैं। वह चाय की मार्केटिंग की नौकरी छोड़ खुद की चाय तैयार कर रहे हैं। राकेश हालांकि कांगड़ा चाय पर तीन साल से काम कर रहे हैं, लेकिन कोरोना संकट के दौरान जून में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की ओर से उनका 28 लाख रुपये का ऋण स्वीकृत हुआ है।

इसके अलावा उद्योग विभाग ने नगरी में 3200 स्क्वेयर फीट का प्लॉट स्वीकृत कर दिया है। अब वह यहां पर चाय की फैक्ट्री लगाएंगे। राकेश पहले दूसरों से चाय खरीद कर बेचते थे, लेकिन अब वह खुद के बगीचे में चाय तैयार कर बेचेंगे। अब राकेश बड़े स्तर पर न केवल कांगड़ा चाय के स्वाद को लोगों तक पहुंचाएंगे, बल्कि साबुन और क्रीम भी बनाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here