Home Azadi Ka Amrit Mahotsav #Nagpur | महा हैंडलूम की राज्यस्तरीय हैंडलूम प्रदर्शनी को व्यापक प्रतिसाद

#Nagpur | महा हैंडलूम की राज्यस्तरीय हैंडलूम प्रदर्शनी को व्यापक प्रतिसाद

574

नागपुर ब्यूरो : वस्त्रोउद्योग विभाग, महाराष्ट्र शासन द्वारा प्रायोजित तथा महाराष्ट्र राज्य हैंडलूम महामंडल (महा हैंडलूम), नागपुर की ओर से आयोजित राज्यस्तरीय हैंडलूम प्रदर्शनी को व्यापक प्रतिसाद मिल रहा है. यहां रोजाना बड़े पैमाने पर प्रदर्शनी देखने के लिए लोग आ रहे हैं और खरीदी भी कर रहे हैं. 28 दिसंबर 2021 से 9 जनवरी 2022 तक टेंपल रोड, सिविल लाइन्स, नागपुर स्थित दक्षिण मध्य सांस्कृतिक केंद्र में आयोजित प्रदर्शनी का उद्घाटन 28 दिसंबर को राज्य की वस्त्रोद्योग आयुक्त तथा महाराष्ट्र राज्य हैंडलूम महामंडल लि. नागपुर की प्रबंध निदेशक शीतल तेली-उगले ने किया था. प्रदर्शनी सुबह 11 से रात 8 बजे तक खुली रहती है.

यहां कोसा/सिल्क साड़ी, पैठनी साड़ी, प्रिंटेड साड़ियां, ड्रेस मटेरियल, शर्ट, कॉटन साड़ी, सतरंजी, बेडशीट, चादर, टॉवेल, नैपकीन, वॉल हैंगिग्स, बांबू/बनाना ब्लेंडेड फेब्रिक्स आदि उपलब्ध है. प्रदर्शनी में सहभागी संस्थाओं की ओर से ग्राहकों को 20 प्रतिशत की विशेष छूट दी जा रही है. प्रदर्शनी में 35 स्टॉल लगाए गए हैं, जहां राज्यभर की विभिन्न संस्थाओं के उत्पाद प्रदर्शन एवं बिक्री के लिए उपलब्ध हैं. इसमें 3.5 से लेकर 90 हजार रुपए तक की पैठनी साड़ी उपलब्ध है, हालांकि मध्यमवर्गीय महिलाओं के लिए एक हजार रुपए से कम वाली साड़ियां भी उपलब्ध है.

हैंडलूम पर उत्पादित कपड़ा भले ही थोड़ा महंगा होता है लेकिन इसमें मानवी मेहनत लगती है, बुनकरों की मेहनत को प्रोत्साहित करने के लिए प्रदर्शनी का लाभ लेने की अपील शीतल तेली-उगले ने नागपुरवासियों से की है. उन्होंने कहा कि हैंडलूम को बढ़ावा देने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है. प्रदर्शनी का उद्देश्य हैंडलूम पर उत्पादित माल को बाजार उपलब्ध कराना, राज्य के विभिन्न ग्रामीण भाग में बुनकरों द्वारा उत्पादित हैंडलूम कपड़ों को ग्राहकों को सीधे उपलब्ध कराना, हैंडलूम क्षेत्र में उत्पादित होने वाले कपड़ों की विशेषतापूर्ण डिजाइन की ग्राहकों को पहचान कराना, हैंडलूम पर उत्पादित हो सकने वाली नवीनतम डिजाइन और इसके लिए उपलब्ध बाजार की पड़ताल कर इसकी जानकारी ग्राहकों तथा बुनकरों को देना है. हैंडलूम बुनकरों द्वारा उत्पादित कपड़ा बहुत वैभवशाली होता है. इस प्रदर्शनी के माध्यम से खरीदारों और उत्पादक बुनकरों के लिए यह एक सुनहरा मौका है.

Previous articleभाजयुमोने जाळला महाविकास आघाडीचा पुतळा
Next article12 लोगों की मौत, 14 घायल इनमें 3 की हालत गंभीर; बहसबाजी के बाद शुरू हुई धक्कामुक्की
वाचकांनो आपन “आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम” ला ट्वीटर, इंस्टाग्राम आणि फेसबुक पर फॉलो करत आहात ना? अजूनपर्यंत ज्वाइन केले नसेल तर आमच्या अपडेट्स साठी आत्ताच क्लिक करा (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (यू ट्यूब-@aatmnirbhar khabar )(फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020).