Home Science फिजिक्स के नोबेल पुरस्कार | स्यूकुरो मानेबे, क्लाउस हासेलमैन और जियोर्जियो पारिसि...

फिजिक्स के नोबेल पुरस्कार | स्यूकुरो मानेबे, क्लाउस हासेलमैन और जियोर्जियो पारिसि को दिया गया अवार्ड

463
फिजिक्स (Physics) के लिए साल 2021 के नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize 2021) का ऐलान कर दिया गया है. रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज (Royal Swedish Academy of Sciences) ने स्यूकुरो मानेबे (Syukuro Manabe), क्लाउस हासेलमैन (Klaus Hasselmann) और जियोर्जियो पारिसि (Giorgio Parisi) को फिजिक्स में 2021 के नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize in Physics) से सम्मानित किया है. तीनों लोगों को ये पुरस्कार जटिल फिजिक्स सिस्टम की हमारी समझ में अभूतपूर्व योगदान के लिए दिया गया है.

इससे एक दिन पहले मेडिसिन कैटेगरी में नोबेल पुरस्कार का ऐलान किया गया था. फिजिक्स में नोबेल पुरस्कार का ऐलान स्वीडन (Sweden) की राजधानी स्टॉकहोम (Stockholm) के रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज द्वारा दिया जाता है. अभी तक फिजिक्स के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए 216 लोगों को इस अवार्ड से सम्मानित किया जा चुका है, इसमें चार महिलाएं भी शामिल हैं. वहीं, 2020 में फिजिक्स का नोबेल पुरस्कार संयुक्त रूप से रोजर पेनरोज (Roger Penrose), रेनहार्ड जेनजेल (Reinhard Genzel) और एंड्रिया गेज (Andrea Ghez) को दिया गया था.

अवार्ड की राशि 1.14 मिलियन डॉलर

नोबेल असेंबली (Nobel Assembly) के मुताबिक, फिजिक्स अवार्ड्स का वो क्षेत्र था, जिसका उल्लेख अल्फ्रेड नोबेल (Alfred Nobel) ने 1895 में अपनी वसीयत में पहली बार किया था. इसने कहा कि उन्नीसवीं शताब्दी के अंत में कई लोग फिजिक्स को विज्ञान में सबसे आगे मानते थे और शायद अल्फ्रेड नोबेल ने भी इसे इसी तरह से देखा. उनकी अपनी रिसर्च भी खुद फिजिक्स से जुड़ी हुई है. इस पुरस्‍कार को हासिल करने वाले व्‍यक्ति को एक गोल्‍ड मेडल के साथ 1.14 मिलियन डॉलर कैश में दिए जाते हैं. पुरस्‍कार राशि को अल्‍फ्रेड नोबल की वसीयत से दिया जाता है.

मेडिसिन क्षेत्र में दो लोगों को मिला नोबेल

वहीं, आने वाले कुछ दिनों में केमेस्ट्री, साहित्य, शांति और अर्थशास्त्र के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कारों का ऐलान किया जाएगा. सोमवार को नोबेल असेंबली ने डेविड जूलियस (David Julius) और अर्देम पटापाउटियन (Ardem Patapoutian) को साल 2021 के लिए मेडिसिन में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया. फिजियोलॉजी या मेडिसिन नोबेल पुरस्कार दोनों लोगों को संयुक्त रूप से दिया गया. बुधवार को केमेस्ट्री के नोबेल पुरस्‍कार विजेताओं के नाम की घोषणा की जाएगी. इसके अगले दिन साहित्‍य, फिर शांति और सबसे आखिरी में अर्थशास्‍त्र के नोबेल पुरस्‍कार का ऐलान होगा.

Previous articleNSUI Meeting । काँग्रेसला राज्यात एक नंबरचा पक्ष करण्यासाठी युवाशक्तीची गरज : नाना पटोले
Next articleआत्मनिर्भर | बुनकर परिवार से ताल्लुक रखने वाली पल्लवी ने खड़ी की करोड़ों की कंपनी
वाचकांनो आपन “आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम” ला ट्वीटर, इंस्टाग्राम आणि फेसबुक पर फॉलो करत आहात ना? अजूनपर्यंत ज्वाइन केले नसेल तर आमच्या अपडेट्स साठी आत्ताच क्लिक करा (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (यू ट्यूब-@aatmnirbhar khabar )(फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020).