Home Positive आत्मनिर्भर | ऑनलाइन गिफ्ट प्लेटफॉर्म के जरिए जयपुर की सौम्या ने शुरू...

आत्मनिर्भर | ऑनलाइन गिफ्ट प्लेटफॉर्म के जरिए जयपुर की सौम्या ने शुरू किया अपना कारोबार

आपके दोस्त की शादी है, बर्थडे है या कोई और ओकेजन है। आप उसे मनपसंद और स्पेशल गिफ्ट भेजना चाहते हैं, लेकिन आप तय नहीं कर पा रहे हैं कि क्या भेजूं? या जो चीज आप गिफ्ट करना चाहते हैं, वह आपको आसानी से मिल नहीं रही है। आमतौर पर इस तरह की दिक्कतें हम सभी को फेस करना पड़ती हैं। मार्केट में इस दुकान से उस दुकान तक भटकने के बाद भी कई बार हमें मन मुताबिक चीजें नहीं मिल पाती हैं। ऐसे में अगर आपको एक ऐसा प्लेटफॉर्म मिले जहां आप खुद की पसंद की चीजें न सिर्फ सिलेक्ट कर सकें बल्कि खुद ही डिजाइन और क्रिएट भी कर सकें, तो कैसा रहेगा? है न शानदार आइडिया!
जयपुर में रहने वाली सौम्या काबरा ने एक ऐसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की शुरुआत की है, जहां आप हर तरह के ओकेजन के हिसाब से गिफ्ट आइटम्स सिलेक्ट और डिजाइन कर सकते हैं और अपने दोस्तों या रिश्तेदारों को भेज सकते हैं। 2 साल के भीतर उन्होंने पूरे भारत को कवर कर लिया है। अमेरिका, इंग्लैंड, दुबई सहित कई दूसरे देशों से भी उनके पास ऑर्डर्स आ रहे हैं। पिछले साल उनकी कंपनी का टर्नओवर 2.5 करोड़ रुपए रहा है।

50 हजार रुपए की लागत से शुरू किया स्टार्टअप

इसी बीच सौम्या को उनके दोस्त के लिए कुछ गिफ्ट करना था। उन्होंने कुछ दुकानों पर तलाश की, ऑनलाइन पोर्टल पर भी गईं, लेकिन मनपसंद की चीजें नहीं मिलीं। सौम्या के लिए यह टर्निंग पॉइंट रहा। उन्हें लगा कि इस सेक्टर में ही कुछ ऐसा प्लेटफॉर्म क्यों न डेवलप किया जाए जहां लोग खुद की पसंद की चीजें सिलेक्ट कर सकें और खुद ही डिजाइन भी कर सकें। इसके बाद साल 2019 के अंत में अपनी सेविंग्स के 50 हजार रुपए से उन्होंने कॉन्फेटी गिफ्ट्स नाम से अपने स्टार्टअप की शुरुआत की।

सौम्या कहती हैं कि सबसे पहले मैंने खुद कुछ गिफ्ट बॉक्स और मॉडल डिजाइन किए। मार्केट में मौजूद प्रोडक्ट्स के मुकाबले उन्हें बेहतर और क्रिएटिव लुक दिया। इसके बाद एक वेबसाइट तैयार की और अपने प्रोडक्ट की फोटो उस पर अपलोड कर दी। मेरे प्रोडक्ट यूनीक और बेहतर थे, लेकिन शुरुआत में बहुत अच्छा रिस्पॉन्स नहीं मिला।

जो लोग मुझे जानते थे उन्होंने ही हमारे प्रोडक्ट खरीदे। इतने से बिजनेस की कल्पना संभव नहीं थी। इसके बाद मैंने सोशल मीडिया की मदद ली। फेसबुक और इंस्टाग्राम पर पोस्ट करना शुरू किया। इसका मुझे फायदा भी हुआ। दूसरे शहरों से भी मेरे पास ऑर्डर आने लगे।

कॉर्पोरेट हाउसेज भी ग्राहक बने

इसके बाद सौम्या ने दायरा बढ़ाना शुरू किया। उन्होंने जयपुर में खुद का एक ऑफिस लॉन्च किया। टीम में सदस्यों की संख्या बढ़ाई और अपने प्लेटफॉर्म पर अलग-अलग कैटेगरी की लिस्ट भी जोड़ती गईं। वे कहती हैं कि लोगों के रिस्पॉन्स के मुताबिक जो कुछ हमारी लर्निंग रही उसके हिसाब से हम प्रोडक्ट और वैराइटी अपनी लिस्ट में शामिल करते गए। इसका फायदा यह हुआ कि इंडिविजुअल कस्टमर्स के साथ ही अमेजन, मिंत्रा, उबर, ITC जैसे बड़े कॉर्पोरेट हाउसेज भी हमारे ग्राहक हो गए।

क्या है बिजनेस मॉडल?

सौम्या बताती हैं कि हमारे प्लेटफॉर्म पर हर ओकेजन और कैटेगरी के हिसाब से अलग-अलग सेक्शन हैं। जैसे किसी को अपने दोस्त के बर्थडे के लिए गिफ्ट लेना है, किसी को अपने ब्यॉय फ्रेंड के लिए लेना है या किसी को अपने माता-पिता के लिए गिफ्ट लेना है, वह अपने मन मुताबिक कैटेगरी सिलेक्ट कर सकता है। इसमें अभी दो तरह की सुविधाएं हैं। एक जिसमें पहले से तैयार गिफ्ट की लिस्ट शामिल है। इसमें से कोई भी गिफ्ट कस्टमर्स अपने हिसाब से सिलेक्ट कर सकता है।

इसके साथ ही हम कस्टमर्स को खुद की पसंद के मुताबिक गिफ्ट चुनने और उसे डिजाइन करने की सुविधा देते हैं। इसमें कस्टमर्स खुद ही अपने पसंद की चीजें सिलेक्ट कर सकता है, उसे डिजाइन और क्रिएट कर सकता है। उसकी पैकेजिंग और ग्रीटिंग कार्ड पर लिखे जाने वाले मैसेज भी वह खुद ही तैयार कर सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here