Home National हरियाणा में ‘गोरख धंधा’ शब्द के उपयोग पर बैन, मुख्यमंत्री मनोहर लाल...

हरियाणा में ‘गोरख धंधा’ शब्द के उपयोग पर बैन, मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का निर्णय

चंडीगढ़ ब्यूरो: हरियाणा सरकार ने ‘गोरख धंधा’ शब्द पर बैन लगा दिया है जिसका आमतौर पर हर कोई उपयोग करता है. राज्य में अब इस शब्द का इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा. इसे आमतौर पर अनैतिक कामों का जिक्र करने के लिए उपयोग में लाया जाता है. हरियाणा सरकार की ओर से बुधवार को जारी एक आधिकारिक बयान के अनुसार गोरखनाथ समुदाय के एक प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने यह निर्णय लिया है. डेलिगेशन ने खट्टर से इस शब्द के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाने का आग्रह किया क्योंकि यह संत गोरखनाथ के अनुयायियों की भावनाओं को आहत करता है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि गोरखनाथ संत थे और किसी भी आधिकारिक भाषा, भाषण या किसी भी संदर्भ में इस शब्द का इस्तेमाल उनके अनुयायियों की भावनाओं को आहत करता है. इसलिए किसी भी संदर्भ में इस शब्द का उपयोग पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया गया है. गोरखनाथ एक संत थे और उन्हें समर्पित एक मंदिर सोनीपत से 20 किलोमीटर दूर गोर्ड गांव में बना हुआ है. इससे पहले गोरखधंधा शब्द को बैन करने की मांग यूपी और राजस्थान जैसे राज्यों में भी उठ चुकी है. नाथ संप्रदाय इस शब्द को पूरे देश में बैन करने की मांग करता आया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here