Home Health Survey | 62% लोग अभी भी नहीं लगवाना चाहते कोरोना वैक्सीन

Survey | 62% लोग अभी भी नहीं लगवाना चाहते कोरोना वैक्सीन

558
0

साइड इफेक्ट का डर सबसे बड़ी वजह

नई दिल्ली ब्यूरो : 16 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में कोरोना के खिलाफ टीकाकरण की शुरुआत की थी. पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंट लाइन वर्कर्स को यह टीका दिया जाना है. देश में इस वक्त लोगों को दो वैक्सीन दी जा रही हैं. पहली ऑक्सफोर्ड-एस्ट्रेजेनका की कोविडशील्ड और दूसरी भारत बायोटेक की कोवैक्सीन. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक अभी तक देश में करीब तीन लाख लोगों को कोरोना की वैक्सीन दी जा चुकी है.

देशभर में चल रही इस वैक्सीनेशन ड्राइव के बीच सर्वे एजेंसी लोकल सर्किल्स ने लोगों में वैक्सीन की स्वीकार्यता को लेकर सर्वे किया है. देश के 230 जिलो में किए गए इस सर्वे में शामिल 62% लोगों में तुरंत वैक्सीन लगवाने को लेकर हिचकिचाहट है. लोकल सर्किल्स के इस सर्वे में कुल 17 हजार लोगों ने अपनी राय दी है. सर्वे में शामिल लोगों से वैक्सीन को लेकर स्वीकार्यता और अस्वीकार्यता को लेकर सवाल पूछा गया. इस सवाल के जवाब में 8,658 यानि 32% लोगों ने कहा कि वे वैक्सीन लगवाने के लिए तैयार हैं.

तीन महीने तक इंतजार करेंगे

सर्वे में 6 प्रतिशत लोगों ने कहा कि जब वैक्सीन प्राइवेट मार्केट में आ जाएगी तब लगवाएंगे. वहीं 22% लोगों ने कहा कि वे अभी तीन महीने तक इंतजार करेंगे और उसके बाद फैसला करेंगे. 14% ने कहा कि वे 3 से 6 महीने इंतजार करेंगे और दूसरे 14% ने कहा कि वे 6 से 12 महीने इंतजार करेंगे जबिक तीन फीसदी ने कहा कि वे 12 महीने से भी ज्यादा इंतजार करने के लिए तैयार हैं और अगले साल वैक्सीन लगवाने को लेकर फैसला करेंगे. इस सर्वे का निष्कर्ष निकला कि 62% लोग तुरंत वैक्सीन नहीं लगवाना चाहते हैं.

हिचकिचाहट का कारण नहीं बता पा रहे लोग

सर्वे में शामिल लोगों से पूछा गया कि वैक्सीन ना लगवाने के पीछे सबसे बड़ा कारण क्या है तो 58% लोगों ने कहा कि अभी इसके साइड इफेक्ट पूरी तरह पता नहीं हैं. वहीं 18% लोगों ने कहा कि वैक्सीन कितनी कारगर अभी यह साफ नहीं है. 11 फीसदी लोगों का मानना है कि वैक्सीन की जरूरत नहीं कोरोना ऐसे ही खत्म हो जाएगा. वहीं 8% फीसदी लोग अपनी हिचकिचाहट का कारण नहीं बता पाए.

धीरे धीरे आ रही है जागरुकता 

लोकल सर्वे ने इससे पहले देश में वैक्सीन को मंजूरी मिलने से पहले भी एक सर्वे किया था. यह सर्वे दिसंबर से लेकर जनवरी शुरुआत तक किया गया था. इस सर्वे में 69% फीसदी लोगों ने कहा था कि वे वैक्सीन नहीं लगावाना चाहते. ताजा सर्वे के नतीजों से साफ है कि लोगों में वैक्सीन को लेकर धीरे धीरे जागरुकता आ रही है. लोगों में वैक्सीन को लेकर भय और भ्रम की स्थिति है.

Previous articleGram Panchayat Election | वर्धा जिल्ह्यात भाजपची जबरदस्त मुसंडी
Next articleMaha Congress President | नाना पटोले यांच्या नावावर शिक्कामोर्तब, लवकरच घोषणा होणार
वाचकांनो आपन “आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम” ला ट्वीटर, इंस्टाग्राम आणि फेसबुक पर फॉलो करत आहात ना? अजूनपर्यंत ज्वाइन केले नसेल तर आमच्या अपडेट्स साठी आत्ताच क्लिक करा (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (यू ट्यूब-@aatmnirbhar khabar )(फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020).

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here