Home हिंदी आज पीएम मोदी मनाली में दुनिया की सबसे लंबी टनल का करेंगे...

आज पीएम मोदी मनाली में दुनिया की सबसे लंबी टनल का करेंगे उदघाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी 3 अक्टूबर काे 9 बज कर 10 मिनट पर सासे हैलीपेड पर लैंडिंग करेंगे. वे शनिवार 3 अक्टूबर को दुनिया की सबसे लंबी टनल का उदघाटन करने वाले हैं. यहां पर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और सीएम जयराम ठाकुर उनका स्वागत करेंगे. सीएम ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी उपायुक्तों काे इस कार्यक्रम के आयोजन का सीधा प्रसारण करवाने के जरूरी दिशा निर्देश जारी किए है.


यहां देखे लाइव –


मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को अटल टनल रोहतांग के लोकार्पण समारोह के सीधे प्रसारण के लिए एलइडी स्क्रीन स्थापित करने के लिए चिन्हित 90 स्थानों पर बैठने की उचित सुविधा सुनिश्चित करने के निर्देश दिए. इन स्थानों पर उपस्थित लोगों द्वारा सामाजिक दूरी और फेस मास्क का प्रयोग भी सुनिश्चित करने को कहा गया है.

सभी पंचायतों के मुख्यालयों में समारोह का सीधा प्रसारण

राज्य की सभी पंचायतों के मुख्यालयों में समारोह का सीधा प्रसारण सुनिश्चित करने के आदेश दिए गए है. उपायुक्तों से संबंधित जिलों के उपमंडल अधिकारियों, खण्ड विकास अधिकारियों को इन स्थानों पर लोगों को बैठने की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा है. लोगों को उनके सोशल मीडिया पर इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण देखने के लिए प्रेरित करने को कहा गया है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इस आयोजन को देख सके.

प्रधानमंत्री का कार्यक्रम
  1. सुबह 9 बज कर 10 मिनट पर सासे हैलीपेड पर लैंडिंग.
  2. 9 बजकर 15 मिनट पर सासे हैलीपैड से सड़क मार्ग द्वारा मनाली जाएंगे.
  3. 10 बजे साऊथ पाेर्टल अटल टनल का उद्घाटन.
  4. 11.45 मिनट तक जनसभा काे संबाेधित करेंगे.
  5. 11.50 बजे अटल टनल से नार्थ पाॅर्टल पर जाएंगे.
  6. 12 बजे सिसू में कार्यक्रम में भाग लेंगे, जनसभा काे संबाेधित करेंगे.
  7. 1.15 बजे साेलंग वैली जाने का कार्यक्रम है.
  8. 2.15 बजे मनाली के सासे हैलीपैड पहुंचेंगे.
  9. 2.20 पर सासे हैलीपैड से चंडीगढ़ के लिए प्रधानमंत्री उड़ान भरेंगे.
घोड़े की नाल के आकार का सुरंग

अटल सुरंग का दक्षिणी पोर्टल मनाली से 25 किलोमीटर की दूरी पर 3060 मीटर की ऊंचाई पर बना है जबकि उत्तरी पोर्टल 3071 मीटर की ऊंचाई पर लाहौल घाटी में तेलिंग, सीसू गांव के नजदीक स्थित है. पीएमओ ने बताया कि घोड़े की नाल के आकार वाली दो लेन वाली सुरंग में आठ मीटर चौड़ी सड़क है और इसकी ऊंचाई 5.525 मीटर है.

वीडियो सौजन्य- पापा कंस्ट्रक्शन, यू ट्यूब चैनल


80 किलोमीटर की रफ्तार भर सकेंगे वाहन

अटल सुरंग की डिजाइन प्रतिदिन तीन हजार कार और 1500 ट्रक के लिए तैयार की गई है जिसमें वाहनों की अधिकतम गति 80 किलोमीटर प्रति घंटे होगी. अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार ने रोहतांग दर्रे के नीचे सामरिक रूप से महत्वपूर्ण इस सुरंग का निर्माण कराने का निर्णय किया था और सुरंग के दक्षिणी पोर्टल पर संपर्क मार्ग की आधारशिला 26 मई 2002 को रखी गई थी. मोदी सरकार ने दिसंबर 2019 में पूर्व प्रधानमंत्री के सम्मान में सुरंग का नाम अटल सुरंग रखने का निर्णय लिया था.


रीडर्स आप आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम को ट्वीटर, इंस्टाग्राम और फेसबुक पर फॉलो कर रहे हैं ना? …. अबतक ज्वाइन नहीं किया है तो अभी क्लीक कीजिये (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020और पाते रहिये हमारे अपडेट्स.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here