Home ganeshotsav Ganeshotsav | ग्रीन विजिल ने कराया 1500 गणेश मूर्तियों का आर्टिफिशियल टैंक...

Ganeshotsav | ग्रीन विजिल ने कराया 1500 गणेश मूर्तियों का आर्टिफिशियल टैंक में विसर्जन

694

नागपुर ब्यूरो : ग्रीन विजिल की टीम पिछ्ले 12 सालों से गणपती विसर्जन के वक्त पुरे 10 दिन फुटाला तालाब पर तैनात रहती है एवं नागरिकों को ईको फ्रेंडली गणपती विसर्जन के लिये प्रेरित करती है। इस साल भी ग्रीन विजिल टीम फुटाला तालाब के वायुसेना साइड पर तैनात है एवं पहले 7 दिनो में करीब 1500 मूर्तियों का विसर्जन आर्टिफिशियल टैंक में करा चुकी है । 5 एमटी निर्माल्य का संकलन किया है। इस मुहीम मे ग्रीन विजील पर्यावरण संस्था के कौस्तुभ चट्टर्जी , सुरभि जैस्वाल, मेहूल कोसुरकर , बिष्णुदेव यादव, शीतल चौधरी , अश्विनी दाबले, श्रिया जोगे, कोमल हतवार, परास जांगड़े , सर्वेश नांदेरकर, कोमल वन्वे एवं 25 सदस्य काम कर रहे है। साथ ही मनपा के एनडीएस दल के जवान भी फुटाला तालाव पर तैनात है।

मिट्टी की मूर्तियों को दी गई तरजीह

हर साल की तरह इस साल भी चोरी छिपे POP की मूर्तियां बिकी है मगर उसकी मात्रा बहुत कम है। विसर्जन के पहले सात दिनो मे करीब 150 POP मूर्तियों का विसर्जन फुटाला के एयर फोर्स साइड के आर्टिफिशियल टैंक में हुआ। कई लोगो को POP की मुर्ति मिट्टी की बोल कर बेचा गया है। जब POP की मूर्तियाँ पानी में नहीं डूबती तब भक्तों को बहुत निराशा होती है। इस साल नागरिकों का रुझान मिट्टी की मूर्तियों के तरफ ज्यादा रहा।

ग्रीन विजिल की टिम लीड सुरभि जैस्वाल ने “आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम” को बताया, POP मूर्तियों पर पाबंदी गणेश पूजा के कम से कम 6 महीने पहले घोषित की जाती तो इस बार का गणेश उत्सव POP रहित हो सकता था। महानगर पालिका अपने तरफ से कोशिश कर रही है, मगर शहर वासियों को भी POP की मूर्तियों का बहिष्कार करना चाहिये।

Previous articleगडचिरोली पोलीस दादालोरा खिडकी । नक्षलग्रस्त भागातील महीला शेतकऱ्यांकरीता भाजीपाला लागवड प्रशिक्षण मेळावा
Next articleMaharashtra | भाजपा के सेवा व समर्पण अभियान के तहत विभिन्न उपक्रम प्रारंभ
वाचकांनो आपन “आत्मनिर्भर खबर डॉट कॉम” ला ट्वीटर, इंस्टाग्राम आणि फेसबुक पर फॉलो करत आहात ना? अजूनपर्यंत ज्वाइन केले नसेल तर आमच्या अपडेट्स साठी आत्ताच क्लिक करा (ट्वीटर- @aatmnirbharkha1), (इंस्टाग्राम- @aatmnirbharkhabar2020), (यू ट्यूब-@aatmnirbhar khabar )(फेसबुक- @aatmnirbharkhabar2020).