Home Maharashtra Maharashtra | हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज करेंगे परमबीर सिंह के आरोपों की...

Maharashtra | हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज करेंगे परमबीर सिंह के आरोपों की जांच

गृहमंत्री अनिल देशमुख बोले- CM उद्धव ने दिया आदेश

मुंबई ब्यूरो : महाराष्ट्र में सियासी ड्रामे के बीच बड़ी खबर है. राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने गृहमंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ लगे भृष्टाचार के आरोपों पर जांच के आदेश दिए हैं. इस बात की जानकारी खुद देशमुख ने दी है. उन्होंने बताया कि बॉम्बे हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज मामले की जांच करेंगे. कुछ दिनों पहले पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने देशमुख पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे. सीएम को लिखे पत्र में सिंह ने दावा किया था कि राज्य के गृहमंत्री ने पुलिसकर्मियों को मुंबई में 100 करोड़ रुपए वसूलने के लिए कहा है.

रविवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान राज्य के गृहमंत्री देशमुख ने कहा ‘महाराष्ट्र के सीएम ने फैसला किया है कि मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त द्वारा मेरे खिलाफ लगाए गए आरोपों की जांच सेवानिवृत्त उच्च न्यायालय के न्यायाधीश द्वारा की जाएगी.’ इन आरोपों को लेकर सिंह ने सुप्रीम कोर्ट का भी दरवाजा खटखटाया था. हालांकि, सर्वोच्च न्यायालय की तरफ से उठे सवाल के बाद उन्होंने हाईकोर्ट का रुख किया था. यहां दायर की याचिका में उन्होंने पुलिस विभाग में ट्रांसफर को लेकर भी आरोप लगाए थे.

क्या था मामला

बीती 25 फरवरी को मुंबई में स्कॉर्पियो कार में मिले विस्फोटक मामले के बाद से ही पुलिस विभाग में उथल-पुथल जारी है. इस मामले में पुलिस अधिकारी सचिन वाजे को सस्पेंड किया गया था. उनपर विस्फोटक और मनसुख हिरन की मौत के मामले में शामिल होने के आरोप हैं. उनके खिलाफ जांच शुरू होने के बाद मुंबई पुलिस से आयुक्त रहे सिंह का 17 मार्च को तबादला कर दिया गया था. विपक्ष ने आरोप लगाया था कि वाजे और सत्तारूढ़ शिवसेना के बीच करीबी संबंध हैं. इस तबादले को लेकर सीएम ठाकरे और एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने मीटिंग भी की थी. इसके अलावा सीएम ने कई मंत्रियों से भी मुलाकात की थी.

सिंह ने सीएम को भेजे पत्र में देशमुख के खिलाफ भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए थे. उन्होंने दावा किया था कि राज्य के गृहमंत्री पुलिस अधिकारियों से हर महीनें मुंबई के बार और होटलों से वसूली करने को कहते थे. हालांकि, देशमुख ने सभी आरोपों को नकारा था. उन्होंने यह भी दावा किया था कि अगर मुख्यमंत्री आदेश देते हैं, तो वे जांच का स्वागत करेंगे. उन्होंने सिंह पर मानहानि का मुकदमा करने की बात कही थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here